Tuesday, August 4, 2009

"The Salman Khan Syndrome"


This one contradiction has always puzzled me a lot and i haven't been able to find out any plausible reasoning for this "salman khan syndrome".....

All over India ,people ,especially females are well aware of Salman Khan's erratic,aggressive and irresponsible behavioural escapades.He kills black-buck just for fun; crushes people sleeping on pavement with speeding car in drunken state;harasses, abuses and even slaps his girlfriends for disobeying and picks up egoistic fights with fellow actors on trivial issues.His all such actions were duly covered in local,national as well as international media.

So,there is no question of such female fans being unaware of his such objectionable acts.Still,many well-informed and educated females are seen on Tv shows and other media forums proclaiming loudly that they are mad for Salman Khan and can go to any extent for him!!!!!

Salman khan might be a very nice and caring person for his near & dear ones, about which genaral public is not aware of . But these female fans are not privy to his such personal persona. Still,what drives them behave in such a way ???????

14 comments:

  1. mujhe bhi nahi pata.......mere liye wah aam insaan hai, abhinay apni jagah,baki jo galat hai,wah hai.......aam jannta yahi karti hai

    ReplyDelete
  2. bahut sahi kaha kuch achaiyen hain par kharabhiyen undekhi nahi ki jaa sakti.

    ReplyDelete
  3. जन-सामान्य, व्यक्ति को उसकी कला, वाह्यव्यक्तित्व से पहचानते हैं, वास्तविक व्यक्तित्व को आसानी से हर कोई नहीं पहचान सकता, प्रबुद्ध वर्ग ही इस बात को समझ सकते हैं..
    jyotsna & NAM DEV PANDEY

    ReplyDelete
  4. what i believe is that the women those who r mad for him have always expectations regarding a mad love which they r not getting in their personal life...what they must b feeling is that this is the person who is very much agressive and passionate and so called(garam khoon)and would go to any extend for them.this might b the reason why Aishwarya left her and all other women go ga-ga over him...... coz Aishwarya got wanted more practical and matured person..
    whatever i still like Shahrukh more than Salman......no offence!!!!

    ReplyDelete
  5. yup.. Sandhya jee.thanx four your candid opinion..
    you may be right but do read next part of this article....
    Michael jckson does not fit into this answer :)

    ReplyDelete
  6. डॉक्टर गिरी,
    इस विषय पर क्या कहूँ? सलमान खान मेरे भी पसंदीदा कलाकारों में से एक हैं| उनके व्यक्तिगत पहलू को एक आम इंसान के नज़रिए से देखें तो बहुत सारी अच्छाई भी है और कमजोरियां भी, जैसे सभी में होता है| उनकी गलतियों की सज़ा उन्हें आम इंसानों की तरह मिली भी है|

    ReplyDelete
  7. Jenny jee, i don;t think salman got punished for whatever acts he has done, legally his cases were not dealt with in a maaner of "AAM ADMI"...it was far from being punished for all his misdeeds.

    ReplyDelete
  8. I want to request sandhya, jenny and neelima to read the next part also. comments by all of you are really encouraging.

    ReplyDelete
  9. कानून की दृष्टी में सज़ा सभी केलिए बराबर होती है, आम हो या खास हों| सलमान खान ने जो अपराध किया वो क्षम्य नहीं है, परन्तु ये भी सच है कि उनकी मंशा ऐसी नहीं थी, कभी कभी कुछ नासमझी और जोश में घृणित अपराध हो जाता है, जैसे कि काले हिरन का मामला है और शराब पी कर इंसानों को कुचलने का| और उन्होंने इसकी सज़ा भुगती है जेल में| अपनी प्रेमिकाओं के साथ उनका जो भी व्यवहार था ये उनका व्यक्तिगत मामला है, जिसमे किसी और का पड़ना ही अनुचित है|
    आज देश हीं नहीं दुनिया में सबसे बड़ी समस्या आतंकवाद और अलगाववाद है, जिससे पूरी दुनिया में तबाही का आलम है| बड़े बड़े नेता जो कुख्यात अपराधी हैं, वो देश के शीर्ष पर आसीन होते हैं| देश की सुरक्षा के साथ जो खिलवाड़ करते हैं उनके खिलाफ कानून के पास सबूत नहीं| साजिश के तहत हजारो बेगुनाह शारीरिक और मानसिक रूप से हर रोज़ मारे जाते हैं| हर रोज़ बेजुबान जानवर मारे जाते हैं मन और क्षुधा पूर्ति केलिए| बलात्कार, दहेज़ हत्या, भ्रूण हत्या, किशोरों के साथ शारीरिक उत्पीडन जाने कितने सारे घृणित अपराध होते हैं| कुछ में हीं अपराधी पकडे जाते और ज्यादातर तो सबूत के अभाव में और ''पहुँच'' के बल पर मामले दबा दिए जाते| क्या हो रहा है उनके खिलाफ? बहुत सारे सवाल हैं, जिनपर हमें अपने सोच को बदलने की ज़रूरत है|
    मैं यहाँ सिर्फ सलमान खान की बात नहीं कर रही, सलमान खान के द्बारा एक प्रतीक के रूप में कह रही हूँ| डॉक्टर साहब मैं आपके इस ब्लॉग को कोई वाद- विवाद का स्थल नहीं बनाना चाहती| अगर मेरे विचार से किसी को आहत पहुंचा हो तो क्षमा चाहती हूँ|

    ReplyDelete
  10. आपके विचार एकदम सही और सटीक हैं ,jenny . मैं जिन मुद्दों को उठाना चाहता हूँ ,यह उन्ही को परिलक्षित करता है....
    सलमान खान जैसे लोग अगर अपनी महिलामित्रों के साथ बादसलूकी करें और इस बात को जानने के बाद भी अगर दूसरी महिलाऐं टी.वी. पर सरे-आम प्रेम-निवेदन करें, तो बात अफसोसजनक ही है.DOMESTIC VIOLENCE को ऐसी ही मानसिकता प्रश्रय देती है...
    हमारे सामाजिक मानसिकता का यही दोहरापन है ,जो कभी ओसामा को हीरो बनाता है,कभी लालू यादाव को शर्मनाक चारा-घोटाला के बाद भी "मैनेजमेंट गुरु" का दर्जा देता है या फिर Elvis को भगवान बना देता है....
    यह आजकी युगचेतना का संक्रमण काल है ,जो बाजारीकरण के दलदल से गुजर रही है . हमें उम्मीद और कोशिश बनाये रखनी चाहिए कि आनेवाले कल में चीज़ें बेहतर होंगी.

    ReplyDelete
  11. Bahut achchha lekh hai ...
    sab kuchh bajarwaad ki den hai ...
    Media ka sabse bada role hai in sab ke peechhe ...

    Khair ... bhagwan sadbuddhi de sabko ...

    Aapka prayas bahut hee achchha hai ...

    Dhanyawad

    ReplyDelete
  12. Lagta hai jenny jee ko Salman bahut pasand hai :)

    ReplyDelete
  13. jab acha bolne se jaan bachti hai to kyon koi bhi sahi bolega ,salman ya un jaise aur kai sirf is liye bachte jate hain aur aisa karte jate ki koi bhi unke khilaaf nai hoga,thode din ka gussa hota hai, par nai pict. aate hi wahi hamara "youth icon"ban kar hume kya karna chahiye ye batata hua nazar aata hai.

    ReplyDelete
  14. Pretty correct,Neha.We tend to live in illusion.

    ReplyDelete